Arvind Kejriwal : Life, Age and 4 Shocking Controversy

Arvind Kejriwal : Life, Age and Controversy

आप सब ने Arvind Kejriwal  का नाम तो जरूर सुना होगा लेकिन आपको अरविन्द केजरीवाल के बारे में ज्यादा नहीं पता होगा इसीलिए आज हम आपको अरविन्द केजरीवाल जी के बारे में सबकुछ बताएँगे और आप हमारे इस वेबसाइट को ज्वाइन भी कर सकते है बिलकुल मुफ्त है। आपको बस हमारे वेबसाइट को सब्सक्राइब कर लेना है ताकि आपको सबसे पहले नोटिफिकेशन के जरिये खबर मिल जाए।

अरविंद केजरीवाल: एक सशक्त नेता का प्रतिबिंब

भारतीय राजनीति में एक नाम जो विवादों और समर्थन दोनों के लिए प्रसिद्ध है, वह है अरविंद केजरीवाल। उनका राजनीतिक सफर एक साधारण इंसान से लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री बनने तक का है। उनकी सोच, कामकाज और नेतृत्व की क्षमता उन्हें एक अनूठा स्थान देती है।

Arvind Kejriwal Personal Life

अरविंद केजरीवाल का जन्म 16 August 1968 को हुआ था। उनका जन्म स्थान सियाना, हरियाणा में है। वे एक साधारण परिवार से हैं और उनके पिता के एक सरकारी अधिकारी के रूप में काम करने के कारण उनका बचपन अन्य लोगों की तुलना में थोड़ा अलग रहा।

वे एक साधारण परिवार से हैं और  केजरीवाल ने अपनी पढ़ाई को अपने कठिनाईयों के बावजूद पूरा किया। उन्होंने अपनी शिक्षा को सरकारी स्कूलों से पूरा किया और फिर इंजीनियरिंग में पढ़ाई की। बाद में, वे भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) की तैयारी करने लगे,केजरीवाल ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा हरियाणा के रेवार में पूरी की और फिर अपनी उच्चतर शिक्षा के लिए ईटीएच, खड़कपुर गए

उनका विवाह 1995 में हुआ था। उनके दो बच्चे हैं, जिनके साथ वे अपना समय बिताते हैं। केजरीवाल अपने परिवार के साथ समय बिताने का प्रयास करते हैं, हालांकि उनकी राजनीतिक दायित्वों के कारण उनका समय काफी अलग होता है।। उन्होंने अपनी पढ़ाई को पूरा करके अपना करियर आगे बढ़ाने का निर्णय लिया। लेकिन बाद में राजनीति में उतरे।

Date of Birth 16 August 1968 (age 55)
Place of Birth Siwani, Haryana, India
Political Party Aam Aadmi Party
Spouse Sunita Kejriwal (married in 1995)
Children 2
Residence 6, Flagstaff Road, Civil Lines, Delhi, India
Alma Mater IIT Kharagpur (B.Tech in Mechanical Engineering)
Profession Politician, activist, bureaucrat
Known for India against Corruption, Jan Lokpal Bill, Activism, Chief Minister of Delhi
Awards Ramon Magsaysay Award
arvind kejriwal delhi CM
arvind kejriwal delhi CM

Arvind Kejriwal Entry In Politics

केजरीवाल का पहला कदम विभाजन अखिल भारतीय आंदोलन के साथ था, जिसमें उन्होंने अन्य लोगों के साथ मिलकर देश के जनता के अधिकारों के लिए लड़ा। उन्होंने बहुत सारे दलित और गरीब लोगों के मुद्दों पर ध्यान दिया और उनकी मदद की।

2012 में, उन्होंने आम आदमी पार्टी (AAP) की स्थापना की, जो एक नई राजनीतिक दल था जो लोगों की समस्याओं को सुलझाने का वादा करता था। अरविंद केजरीवाल की नेतृत्व में AAP ने दिल्ली में 2015 में ऐतिहासिक जीत हासिल की और उन्हें दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में चुना गया।

केजरीवाल की प्रशासनिक क्षमता और कामकाज का परिणाम दिखता है जब उन्होंने दिल्ली में विभिन्न क्षेत्रों में सुधार किया। उन्होंने बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य जैसे क्षेत्रों में नई पहचान स्थापित की है।

हालांकि, अरविंद केजरीवाल को भारतीय राजनीति में विवादों का सामना करना पड़ता है। उनकी राजनीतिक उपलब्धियों के साथ-साथ, उन्हें भ्रष्टाचार के मामले में भी कई बार विवादों में फंसना पड़ा है।

अरविंद केजरीवाल को एक उदार और सजीव नेता के रूप में जाना जाता है, जो अपने कामों से लोगों के दिलों में जगह बना चुके हैं। उनकी नेतृत्व की क्षमता और समर्थन उन्हें एक प्रभावशाली नेता बनाते हैं, जिसने राजनीति में नई दिशा दिखाई है।

Function Of AAP-Aam Aadmi Party

आम आदमी पार्टी भारत में एक राजनीतिक पार्टी है। इसे 26 नवंबर 2012 को अरविंद केजरीवाल और उनके तब के साथियों द्वारा स्थापित किया गया था,2011 के भारतीय भ्रष्टाचार आंदोलन के बाद। आप वर्तमान में पंजाब राज्य और दिल्ली संघ शासित प्रदेश में सरकारी पार्टी है।

Arvind Kejriwal Controversy

अरविंद केजरीवाल, भारतीय राजनीति में एक बहुत ही विवादास्पद नेता है। उनकी राजनीतिक करियर में कई विवादों और आरोपों का सामना करना पड़ा है। यहां कुछ प्रमुख विवादों की चर्चा की गई है:

  1. धरना-प्रदर्शन: अरविंद केजरीवाल को धरना-प्रदर्शन करने और लोगों के साथ सड़क पर उतरने का आरोप लगा है। उन्होंने कई बार आपातकालीन परिस्थितियों में सड़क पर उतरकर अपने मांगों को प्रस्तुत किया है, जिससे उन्हें विवादों का सामना करना पड़ा है।
  2. भ्रष्टाचार के आरोप: केजरीवाल ने भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में हमेशा सशक्त रूप से हिस्सा लिया है, लेकिन कुछ लोगों ने उन्हें अभियोगों का शिकार होने का आरोप लगाया है। उन्हें अक्सर अभियोगों का सामना करना पड़ा है, जिसमें उनके राजनीतिक दल आप को भ्रष्टाचार के आरोप में शामिल किया गया है।
  3. पार्टी आंतरिक विवाद: अरविंद केजरीवाल के पार्टी, आम आदमी पार्टी (AAP), के अंदर भी कई आंतरिक विवाद हुए हैं। इनमें पार्टी के विभाजन, नेतृत्व की विवादित मुद्दे और अधिकारों के वितरण से जुड़े मामले शामिल हैं।
  4. उनके बयानों का विवाद: केजरीवाल के कुछ बयानों ने उन्हें विवादों में फंसा दिया है। उनके कुछ बयानों ने सार्वजनिक विवाद उत्पन्न किए हैं और कई बार उन्हें सोशल मीडिया पर घेरा गया है।

इन सभी विवादों के बावजूद, अरविंद केजरीवाल ने अपनी राजनीतिक करियर को आगे बढ़ाने का प्रयास किया है और अपने आदर्शों के प्रति अपनी पूरी कटिबद्धता दिखाई है। वे अपने कामों के माध्यम से जनता के बीच लोकप्रियता हासिल करने में सफल रहे हैं, हालांकि उनके विवादों ने उनकी राजनीतिक छवि को प्रभावित किया है।

 

WATCH WEBSTORIES

 


Discover more from Janta Time

Subscribe to get the latest posts to your email.

One thought on “Arvind Kejriwal : Life, Age and 4 Shocking Controversy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from Janta Time

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

5 ऐसे Hindi Jokes जो आपको हँसा कर ही छोड़ेंगे THESE MOTIVATIONAL QUOTES DEFINETLY CHANGE YOUR MIND पैकेट वाला दूध हानिकारक क्यू है ? चाय बन गया है अब जहर :Tea Side Effects INDIAN RAILWAY से जुड़े रोचक तथ्य